WORK HARD DREAM BIG 

       

work hard and dream big

दोस्तों, अक्सर ही आपने  सपनो को लेकर इसी के जैसे हजारो quotations पढ़े होंगे  जैसे  Work Hard And Dream Big , अच्छे भी बहुत लगे होंगे। पर आप में से बहुत कम होंगे जिन्होंने समझे होंगे। यहाँ समझने से मतलब है उसको अपनी लाइफ में उतारने से। दोस्तों, जैसे बड़े बड़े सफल व्यक्ति आपके role  model  हो सकते हैं तो ये quotations में  लिखी हुयी बातें क्यों नहीं?

अब कुछ लोग बोलेंगे कि सर आप क्या बात कर रहे हैं , लिखी हुयी बातें कैसे Role Model  हो सकती ? हो सकती हैं दोस्तों , आप खुद सोचो क्या भगवान कृष्णा आपके Role Model हैं ? या अर्जुन ? नहीं ना ? Role Model है “GEETA” , क्यों ? क्योकि उसमे लिखी हुयी बातें आपको पसंद हैं , आपको inspire करती हैं। तो हुयी ना लिखी हुयी बातें आपकी role model ? 

“सपने वो नहीं होते जो हम अक्सर सोते समय देखते हैं , सपने वो होते हैं जो हमे सोने नहीं देते। “ “Dreams are not what we often see while sleeping, dreams are those that do not let us sleep.”

Friends, you have often read thousands of similar quotations about dreams like Work Hard And Dream Big, you must have felt good. But there will be very few of you who have understood. To understand here means to bring it into your life. Friends, such successful persons can be your role models, so why not the things written in these quotations?.

Now some people will say that Sir, what are you talking about, how can the written things be a Role Model? It can be friends, think to yourself, is Lord Krishna your role model? Or Arjun? No, Role Model is “GEETA”, why? Because you like the things written in it, that inspire you. So now written things can be your role model?

सपने हमारी प्रेरक शक्ति जैसे होते हैं।  जब भी हम कुछ Goal बनाते हैं जिंदगी में तो उसके पहले एक सपना देखते हैं उस goal को लेकर, वही से शुरू होता है हमारा “Dream Big” . दोस्तों, यहाँ Dream Big का ये बिलकुल भी मतलब नहीं है कि आप बड़ा बड़ा ही सोचो।

जैसे मैं आपको फिर एक simple सा उदाहरण देता हूँ। मान लीजिये कि एक स्कूल है जिसमे बाहर गेट पर 2 गार्ड्स लगाए गए हैं जिनकी उम्र 40 से 50 साल की है  । अब ज्यादातर देखा जाये तो गार्ड्स Highly Educated तो नहीं होते । तो अगर हम Dream Big की बात करें तो वो स्कूल के प्रिंसिपल तो नहीं बन सकते ना अब , क्योंकि  ना तो अब उनकी पढाई की उम्र है और ना High Education .

तो यहाँ Dream  Big का कोई मतलब नहीं हुआ। अब लेकिन अगर वो ये सपना देखें कि वो म्हणत करके धीरे धीरे आस पास के सारे गार्ड्स को अपने साथ जोड़ कर अपनी एक खुद की security Agency डालेंगे तो ये बिलकुल संभव है। यहाँ उन्हें अपने Big Dreams को पूरा करने के लिए Hard Work करना पड़ेगा। और यही हमारा Topic है -” Work Hard And Dream Big –A Master Plan For Better Life”

Dreams are like our driving force. Whenever we make some Goal in life, we see a dream before that, with that goal, our “Dream Big” starts from the same. Friends, here Dream Big does not mean that you think big.

Like I give you a simple example again. Suppose there is a school in which 2 guards are placed at the gate outside, whose age is 40 to 50 years. Now, most of the guards are not highly educated. So if we talk about Dream Big, then they cannot become the Principal of the school or not now, because neither  are they in  the age of their studies nor highly educated.

So here Dream Big has no meaning. Now, but if they dream that they will assassinate and gradually join all the guards around and put up their own security agency, then it is quite possible. Here they have to do hardwork to complete their Big Dreams. And this is our topic – “Work Hard And Dream Big-A Master Plan For Better Life”

dream big

दोस्तों , हमारे सपने छोटे हैं या बड़े इससे कोई फर्क नहीं पड़ता, फर्क पड़ता है तो सिर्फ इस बात से कि आपके सपनों के पीछे आपके Efforts कितने हैं।  आप जब भी अपने Goal को अपना Dream बनाएं तो 2 बातों का हमेशा ध्यान रखें –

  • सपना आप कैसा भी देखें , goal कोई भी decide  करें पर उसके लिए hard work के लिए तैयार रहें। आपका प्रयास सही समय पर, सही दिशा में और सही तरह का होना चाहिए। मैं आपको ये तीनों ही बातें समझा देता हूँ दोस्तों।  सही समय का मतलब है कि आपको जिस समय जितना ज्यादा दम लगाना है उसको समझें। जैसे अगर आप सर्दी के मौसम में घर घर जाकर भी कूलर बेचने की कोशिश करें ना तो भी आपको उतना response नहीं मिलेगा जितना यही काम गर्मी के मौसम में करने पर मिलेगा।

कहने का मतलब ये है कि न तो product ख़राब है और न ही आपका प्रयास कम है पर सही समय का चयन नहीं है। इसी तरह सही दिशा का मतलब होता है कि कौन  सा काम कैसे करना है। जैसे अगर आप ये सोचो कि आपकी महिलाओं के सैंडल्स की शॉप है। आपके पास सैंडल्स के 100 वैरायटी हैं। अब आपने business बढ़ाने के लिए सोचा कि उनमे 20 वैरायटी के कपडे भी रख लिए जाएं , तो आपको उतना response नहीं मिलेगा क्योकि आप जानते  हैं कि कपड़ो का व्यापार बहुत बड़ा है , उसमे चयन करने के लिए 100  वैरायटी भी कम पड़ जाते हैं।  तो आपकी मेहनत  सही है पर सोचने की दिशा गलत।

इसकी जगह आप कपड़ो में लगने वाले पैसो को सैंडल्स की वैरायटी बढ़ाने में लगाएं तो आपको ज्यादा फायदा होगा। आप अलग अलग age groups के models के वैरायटी पर बी focus कर सकते हैं। तीसरा है , सही तरह का प्रयास।  दोस्तों ज्यादातर देखा गया है कि जब लोगो के सपने सही तरह से या जल्दी पूरे नहीं होते तो वो उन्हें पूरा करने के लिए कुछ गलत तरीके अपना लेते हैं। दोस्तों , ये गलत तरीके तुरंत तो आपको फायदा दिखा सकते हैं पर ये फायदे permanent नहीं होते। आगे चलकर उनका result भी गलत ही आता है। तो अपने समय,दिशा और तरीकों पर विचार करते हुए goal की तरफ बढ़ें। 

  • सपना वही देखें जो यथार्थ हो , सच की जमीन पर हो और जिसे आप पूरा कर सकने का कम से कम प्रयास तो कर सकते हों। दोस्तों, चाँद पर अपना आशियाना होना कभी कोई सपना नहीं हो सकता, ये अभी एक महज कल्पना मात्र है। पर हाँ चाँद पर जाना जरूर एक सपना एक Goal हो सकता है जिसे कड़ी मेहनत  से पूरा किया जा सकता है।

अपने जीवन के छोटे छोटे Goals बनाएं जो आगे जाकर  आपस में मिलकर आपके एक बड़े सपने को पूरा कर सकें। दोस्तों , जैसे बचपन में हम अपनी गोलक बनाते थे ना, जिसमे हम अपने किसी बड़े सामान को लेने के लिए छोटे छोटे amount collect करते रहते थे। जिंदगी  भी उसी गोलक की तरह है , जिसमे हम अपने छोटे छोटे Efforts डालकर बाद में अपने एक बड़े सपने को पूरा कर सकते हैं 

Friends, our dreams are small or big, it does not matter. It does matter only by how much Efforts are behind your dreams. Whenever you make your Goal your dream, always keep two things in mind – no matter what the dream is, decide the goal, but be prepared for hard work for it. Your efforts  should be at the right time, in the right direction and of the right kind. I can explain these three things to you guys. The right time means that you understand the time when you have to hit hard. Just like you try to sell air cooler even by going house to house in winter season. But you will not get as much response as you would get if you do the same work in summer season.

This is to say that neither the product is defective nor your effort is low but the right time is not selected. Similarly, the right direction means which work to do and how. Like if you think that you have a shop for women’s sandals. You have 100 varieties of sandals. Now to increase business, you thought that 20 Variety of clothes should be kept in them, then you will not get that much response because you know that the business of clothes is very big, 100 Variety is also not much to select it. So your hard work is right but the direction of thinking is wrong.

Instead, if you apply the money applied in clothes to increase the variety of sandals, you will get more benefits. You can focus on variety of models of sandals of different age groups. The third is the right kind of effort. Friends, it has been seen that when the dreams of people are not fulfilled properly or quickly, they take some wrong ways to fulfill them. Friends, these wrong methods can show you benefits immediately but these benefits are not permanent. Later, their result also comes out wrong. So consider your time, direction and methods and move towards the goal.

See the dream that is real, is on the ground of truth, and for which you can at least do the effort to fulfill it. Friends, having your home on the moon can never be a dream, it is just a fantasy. But yes, going to the moon can definitely be a dream that can be fulfilled with hard work. Make small Goals in your life that can go ahead and fulfill your big dreams. Friends, as a child, we used to make our own Piggy Bank, in which we used to collect small amount for taking any of our big items. Life is also like that piggy bank in which we can put our small efforts and later we can fulfill our big dreams.

दोस्तों मैं आपको अब हमारे अंदर की वो 4  बुराइयां या barriers बताने जा रहा हूँ जो हमे कभी आगे नहीं बढ़ने देते हैं और जिन्हे overcome करके हम अपने Hard Work से अपने Big Dreams को पूरा कर सकते हैं। 

Friends, I am now going to tell you the 4 evils or barriers inside us that never let us go ahead and by overcome with these barriers we can achieve our Big Dreams with our Hard Work.

4 Barriers To Overcome —

I Am Not Good Enough ?

I am not good

 —दोस्तों , अक्सर जब भी हम अपने आस पास लोगों को अपने सपने पूरे करते हुए देखते हैं तो हम खुद पर ही संशय करने लगते हैं कि शायद मुझमे ही कमी है या मैं capable ही नहीं हूँ। इससे क्या होता है कि हम demotivate होने लग जाते हैं और dream पूरे करने के प्रयासों में कमी आने लग जाती है। दोस्तों , एक कहावत आपने सुनी ही होगी कि ” बड़े बड़े सुन्दर महल तुरंत ही नहीं बन जाते हैं , उनको बनने में समय लगता है”

आपको ये समझना पड़ेगा कि हर कोई अपनी अलग अलग खूबियों के साथ एक दूसरे से भिन्न होता है। वर्ना आज सचिन तेंदुलकर रेसर होते और पी टी ऊषा  Cricketer . तो आप अपनी खूबियों को पहचानिये उनपर विश्वास  करिये और सिर्फ अपने goal को दिमाग में रख कर आगे बढिये। दोस्तों , आपको बस ये सोचना है कि मुझे कुछ घंटे अपने आप  को  देने हैं  और इस लक्ष्य को पाना है। 

Friends, often whenever we see people around us fulfilling their dreams, then we start to doubt ourselves that maybe I am lacking or I am not capable. What happens with this is that we start being demotivate and our efforts to fulfill the dream begin to decline. Friends, you must have heard a saying that “Big beautiful palaces are not built immediately, they take time”. You have to understand that everyone differs from each other with their different strengths. Otherwise today Sachin Tendulkar would have been a racer and PT Usha Cricketer. So you recognize your strengths and believe in them and just keep your goal in mind and move forward.Friends, you just have to think that I have to give myself a few hours and achieve this goal.

Perfection Needed – 

हमारे दिमाग में ये चल रहा होता है कि ये जो काम हमे करना है पहले उसमे Perfect हो जाऊ तब शुरू करूँ ताकि कुछ गलतियां न हों  और मैं अपने Goal तक पहुंच जाऊ। दोस्तों, कौन perfect हो सका है आज तक ? कौन है जिससे गलतियां नहीं होती हैं ? और अगर गलतियां नहीं होती हैं तो समझ लो उसने कोशिश ही नहीं की है। गलतियों से हमे सीख लेके आगे बढ़ना होता है। perfection का कोई मानक नहीं होता है और जिसका मानक नहीं होता है उसको पाने का प्रयास करना व्यर्थ है। किसी को जीवन में perfect होकर दिखाने की जरुरत नहीं है आपको। 

It is going on in our mind that this work that we have to do, we should first be perfect in it, then start so that there are no mistakes and I can reach my Goal. Friends, who has been perfect till date? Who does not make mistakes? And if mistakes do not happen then understand that he has not tried. We have to learn from mistakes and move forward. There is no standard of perfection and it is futile to try to get one which is unattainable . You do not have to show someone to be perfect in life.

  • Worried About Other’s Thinking–अक्सर हमने देखा है कि कोई भी Goal बनाने से पहले लोग ये सोचने लग जाते हैं कि अगर मैं  ये काम करूँगा तो लोग क्या कहेंगे , समाज क्या कहेगा। भाई जरा सोचो कि आज की तेज भागती  दुनिया में क्या किसी के पास टाइम है आपके लिए कुछ कहने का ? जिनको अपने लक्ष्य पाने होते हैं वो दुसरो को कुछ कहने में ध्यान नहीं देते, अपने लक्ष्य पर ध्यान देते हैं। और जिनके पास आपको कुछ कहने का समय है मतलब कि उनका ध्यान उनके लक्ष्य पर नहीं है। और जिसे अपने लक्ष्य की ही चिंता न हो  हैं आपको क्यों सुनना है। ऐसे लोगों को ये नहीं पता होता कि किसी को कुछ बोलने से पहले सोचना चाहिए। याद रखियेगा कमल का फूल हमेशा कीचड़  में ही खिलता है। एक बहुत पुराणी कहावत है दोस्तों कि “समझदार व्यक्ति वो है जो अपने ऊपर फेंकी गयी ईंटों से अपना सुन्दर घर बना लेता है। ”  

Often we have seen that before making any Goal, people start thinking that if I do this work then what will people say, what will society say. Brother, just think that in today’s fast-paced world, does anyone have time to say something for you? Those who have to achieve their goals, they do not pay attention to say something to others and always focus on their goals. And those who have time to say something to you mean that their focus is not on their goal. And who is not worried about his goal, why do you want to listen him?Such people do not know that one should think before saying anything. Remember that the lotus flower always blooms in mud. There is a very old saying that “a wise man is one who builds his beautiful house with the bricks thrown at him.


Worried about Failure— 

दोस्तों क्या आपको पता है कि डर भी 2 टाइप का होता है – पहला Positive और दूसरा Negative . Positive  डर वो होता है जो आपको डराता है कि हमे हार के बैठना नहीं है ,ये मेरा लक्ष्य है और मुझे ये किसी भी कीमत पर पूरा करना है। और Negative डर ये होता है कि अरे यार मैंने ये काम शुरू तो कर दिया है पर पता नहीं पूरा होगा भी या नहीं। क्या करू ,क्या इसको बंद करके दूसरा काम शुरू कर दूँ जो बगल वाला कर रहा है ?

 ये डर वो डर है जो असफलता के भय से पैदा होता है। असफल होना किसी को भी अच्छा  नहीं लगता, परन्तु कुछ लोग उसी असफलता को अपना हथियार बना के  सफल हो जाते हैं , और कुछ लोग उसी को अपनी ढाल बना के बैठ जाते हैं। Nothing is Impossible.  तो लोगो से ध्यान हटा कर अपने लक्ष्य पर ध्यान लगाइये ताकि आपको बेहतर नतीजे प्राप्त हों। 


Friends, do you know that fear is also of 2 types – First Positive and Second Negative. Positive fear is what scares you that we don’t have to sit in defeat, that is my goal and I have to fulfill it at any cost. And the negative fear is that oh man, I have started this work but I do not know whether it will be completed or not. What to do, should I stop it and start another work what my neighbour is doing  ? This fear is the fear that arises from the fear of failure. No one likes to fail, but some people succeed by making that failure their weapon, and some people make them sit as their shield. Nothing is Impossible. So, divert attention from people and concentrate on your goal so that you get better results.

अंत में दोस्तों मैं  इतना ही कहना चाहूंगा कि जीवन में एक Big Dream होना बेहद जरुरी है और उसको पूरा करने के लिए Hard Work उससे भी ज्यादा जरुरी। हम सपने तो देख लेते हैं पर उनको हकीकत में नहीं ला पाते क्योकि हम यही सोचते रह जाते हैं कि हाँ “एक दिन” हम इस काम को शुरू जरूर करेंगे , पर वो एक दिन कभी भी नहीं आता। इसलिए दोस्तों , One Day Or Day One : Decide First . किसी काम को पूरा करने के और अपने सपनो को जीने के बहुत सारे तरीके हो सकते हैं। जब आप decide  कर लें  कि आपको ये काम करना ही है तो उसके लिए उचित Plan बनाइये और Step By Step उसपर चलते हुए उसे पूरा कीजिये। 

In conclusion, friends, I would like to say that having a big dream is very important in life and hard work is more important to fulfill it. We dream but cannot bring them into reality because we keep thinking that yes “one day” we will definitely start this work, but it never comes one day. Hence friends, One Day or Day One: Decide First. There can be many ways to complete a task and live your dreams.When you decide that you have to do this work, make a proper plan for it and complete it by walking on it.

Work hard play hard

Categories: Motivational

1 Comment

Be motivated · August 15, 2020 at 10:13 pm

Nice

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *