Tips for self improvement–

self improvement technique

सुबह सो कर उठना , फ्रेश होना , चाय पीते हुए या तो न्यूज़ पेपर पढ़ना या फिर TV पर न्यूज़ देखना। फिर नहाना , नाश्ता करना और ऑफिस के लिए तैयार होकर निकल जाना।  यही है ना आजकल हमारी लाइफ ??
Different Day With Same Story यही अपना मंत्र बन गया है ना ? तो दोस्तों हमे समझना पड़ेगा कि  How to change your life ? लाना ही है दोस्तों।  पर जब नाम Change का आता है तो हम कुछ बड़ा सोच कर घबरा जाते हैं। हमे लगता है कि एक छोटा सा परिवर्तन ( self improvement) करने के लिए तो जीवन में बहुत सारी चीजें बदलनी पड़ती हैं तो मैं तो जीवन बदलने की बात कर रहा हूँ , ना जाने इसमें क्या क्या बदलना पड़ेगा।

दोस्तों मैं आपको कुछ बड़ा बदलने को कहूंगा ही नहीं।  बस आपको दिन में सिर्फ 1 घण्टे वो करना है जो आप करना चाहते हैं , वो करना है जो आप नहीं करना चाहते हैं , वो करना है जिससे आप डरते हैं ,और वो भी करना है जो आपको करना चाहिए।

life sucks

Confused ??

कोई बात नहीं , मैं आपको अपने सारे Points एक एक करके सरल तरीके से समझाऊंगा। हर दिन 1 घंटा यही हमारा topic है आज का – 30 Hours to Myself : How to change your life 
आइये दोस्तों मैं आपको ये 30 घंटे का सफर 30 मिनट में पूरा कराता हूँ  और बताता हूँ कि आपको क्या करना है हर एक दिन के हर एक घंटे में 1 महीने तक, तभी पूरे होंगे ना 30 घण्टे।

Low investment business ideas in India

1 ) पहला दिन पहला घंटा-मैडिटेशन शुरू करें –

start meditation for self improvement

आपको कोशिश करनी है कि अपने दिन की शुरुवात मैडिटेशन से करें। क्योकि आज हमारे जीवन में दोस्तों सबसे बड़ी समस्या है workload | और हमारी सबसे ख़राब आदत है बाहर का काम घर लाने की। आप खुद भी महसूस करते होंगे कि जब हम रात में लेटते हैं तो भी या तो हमारे मन में दिन भर की बातें चलती रहती हैं या फिर अगले दिन के काम को कैसे करना है इसकी टेंशन। तो रात भर हम तो सोते हैं पर हमारा दिमाग चलता रहता है और यही कारण है कि हमारे नींद कभी Sound Sleep नहीं हो सकती। अगर सुबह आप उठते हैं तो आपको भी शरीर सुस्त प्रतीत होता होगा। इसीलिए मैडिटेशन जरूरी है दोस्तों ताकि हमारा दिमाग भी कुछ देर ही सही पर आराम कर सके। और self improvement के लिए ये बेहद जरूरी है।

How to earn more from your bank savings

2 ) दूसरा दिन दूसरा घंटा- योग करें –

self improvement by yoga

योग की जरुरत आप शायद इसी से समझ गए होंगे कि एक समय था कि आपको खोजने से भी आपके शहर में yoga centers नहीं मिलते थे। आज गली गली में ये center खुले हैं और सबमे आप जाकर  देखें तो सीखने वाले मिल ही जाएंगे। 

मतलब ये एक बहुत सक्सेसफुल बिज़नेस है और self improvement का सटीक तरीका भी । आपको भी पता है कि कोई भी बिज़नेस तब सक्सेसफुल हो जाता है जब वो जरुरत बन जाता है।मतलब साफ़ है कि योग आज  जरुरत बन चुका है।   

How to earn a lot from Facebook

3) तीसरा दिन तीसरा घंटा-कम से कम 20 मिनट की walk या run –

आप अपने घर के पास की सड़क पर या पास में कोई पार्क हो तो वहां जाकर कम से कम 20 मिनट की walk या Run जरूर करें। इससे आपके शरीर में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है और आपके पूरे शरीर में दिन भर काम करने के लिए ऊर्जा आ जाती है।daily walk आपका mood भी improve करती है ,आपका energy level बढ़ाती है। साथ ही साथ आप stress manage कर सकते हैं , फिट रह सकते हैं और weight loose कर सकते हैं। इससे भी आपको अपने self improvement मे मदद मिलेगी ।

4) चौथा दिन चौथा घंटा-सूर्योदय या सूर्यास्त को देखने का आनंद लें —

self development

सुबह जल्दी अगर उठ पायें तो उठ के फ्रेश होकर बालकनी या छत पर जाएं। और सुबह उगते हुए सूरज को देखें।मैं ये नहीं कहूंगा कि मैं ये विटामिन डी लेने के लिए कह रहा हूँ ,ये तो आपको हर जगह लिखा मिल जायेगा ,मैं बस इसलिए कह रहा हूँ कि सुबह उठकर जब आप ठंडी हवा में खड़े होंगे और चिड़ियों की आवाज़ सुनेगे तो आपको लगेगा कि आप आज प्रकृति के पास हो।ये भी अपने दिमाग को relax करने और self improvement का एक तरीका है ।

इसी प्रकार आप किसी दिन सूर्यास्त का भी आनंद ले सकते हो। शाम की चाय छत पर पीजिये और relax होके  सूरज को  धीरे धीरे नीचे जाते हुए देखिये। 

Where is GANDEEV ( Arjun’s Bow) this time ?

5) पांचवा दिन पांचवा घंटा-अपने रूम के फर्नीचर को rearrange करें –

self improvement tricks

आपका अगर अपना खुद का कोई रूम हो तो उसमे लगे हुए फर्नीचर्स को थोड़ा हटा कर सेट करें।  इससे आपको आपके रूम में कुछ नयापन दिखेगा।  साथ ही अगर आपके पास एक्स्ट्रा परदे भी हों तो उनको भी आप बदल कर लगा सकते हैं। नयापन हमेशा ही दिल को खुश करने वाला होता है।ये नयापन self improvement की दिशा मे मील का पत्थर साबित होता है । 

How to save money by small savings

6 ) छठवां दिन छठवां घंटा-अपने कपड़ों की अलमारी को खुद से सेट करें-

महीने में किसी दिन एक घंटा अपने कपड़ों की अलमारी को दें। कभी कभी हम खुद ही भूल जाते हैं कि हमारे पास कोई कपडा ऐसा है जिसपे से हमारा ध्यान ही हट गया है। और दोस्तों जब भी हमे हमारी अलमारी से वो कपडा मिलता है तो हमारा चेहरा ख़ुशी से खिल जाता है।  साथ ही दोस्तों इससे हम एक काम और कर सकते हैं। जब भी हम अपने कपड़े खुद से चेक करते हैं तो हमें पता चलता है कि अरे ये कपडे तो हमारे लिए पुराने हो गए हैं या छोटे हो गए हैं तो हम उनको निकाल  कर आस पास रहने वाले गरीब लोगो को दे सकते हैं या किसी संस्था में दे सकते हैं जो यही काम करती हो।

इससे भी हमारे मन को सुकून ही मिलेगा। दोस्तों लोगों की सहायता करने के लिए बहुत बड़े बड़े काम ही किये जाएं ये जरुरी नहीं होता बल्कि किसी की सही समय पर सही तरीके से जरुरत पूरी कर देना भी बड़ा काम ही माना जाता है। अपने समान का मैनेजमेंट भी आपको self improvement सिखाता है ।

Best retirement plans in India

7)सातवां दिन सातवां घंटा-अपने जूतों की अलमारी को सेट करें

set your shoe rack

इसी प्रकार आप अपने जूतों की अलमारी को भी सेट करें।  उनको धूप लगाएं और उनमे से भी जो आपके काम के ना हों उन्हें अलग करके किसी जरूरतमंद को दे दें। 

Why arjun tried to kill yudhisthir in mahabharata

8)आठवां दिन आठवां घंटा-घर कीpaintings की अदला बदली करें-

घर में लगी हुयी पेंटिंग्स का रूम बदल दें। दूसरे रूम की पेंटिंग्स को दूसरे रूम में एडजस्ट करें।  इससे दीवारों पर भी नयापन आएगा। और आपको पता भी चल जायेगा कि अगर किसी पेंटिंग के कॉर्नर्स टूटे हों तो उन्हें रिपेयर कराना  है। साथ ही साथ आप अगर चाहें तो कुछ नयी पेंटिंग्स भी ला सकते हैं। 

9)नौवां दिन नौवां घंटा-अपने पसंद के कपड़ो के 1 या 2 सेट press करके रखें–

दोस्तों , अक्सर क्या होता है कि जब हमें सुबह जल्दबाज़ी में ऑफिस जाना होता है तो हम अपने पसंद के कपडे पहन कर नहीं जा पाते क्योकि हमे याद आता है कि ओह मैंने तो उनको अलमारी से निकाला ही नहीं। अब जब वो निकले ही नहीं तो press भी नहीं होंगे। तो हमे मज़बूरी में टंगे हुए कपडे पहन कर जाने पड़ते हैं। तो आप अपने इस एक घण्टे में आराम से decide करें कि आपको कौन से सेट पसंद हैं। उन्हें निकालें उन्हें press करके रखें। अगले  दिन जब आप उन्हें पहनेगे तो अपने अंदर एक अलग सा confidence महसूस करेंगे। 

Whatsapp new security feature

10)दसवां दिन दसवां घंटा-घर के खिड़की दरवाजों में तेल डालें-

वास्तु के हिसाब से भी घर में खोलने और बंद करने पर आवाज़ करने वाले दरवाजे खिड़की शुभ नहीं माने जाते हैं। आप अपने किसी दिन का एक घंटा इनके रख रखाव पर खर्च कर सकते हैं। इससे आपके फर्नीचर की सुरक्षा भी हो जाएगी और आपको अच्छा भी फील होगा। 

11)ग्यारहवां दिन ग्यारहवां घंटा-अपने mobile की ToDo लिस्ट को चेक करें-

unhappy life. need self improvement

कभी कभी दोस्तों हम अपने काम को अपने मोबाइल की TO DO लिस्ट में लिख तो लेते हैं पर काम की व्यस्तता के कारण उसको देखना भूल जाते हैं जिससे वो काम भी delay हो जाता है। हो सकता है वो काम बेहद जरुरी रहा हो जिसमे देर करने की गुंजाईश न हो , पर भूल जाने के कारण हमारा नुकसान हुआ हो। तो अपने किसी दिन का 1 घंटा निकालें जिसमे आप उस लिस्ट को शांति से बैठ कर update करें। आप अपने काम मे दक्ष होके self improvement की एक और सीढ़ी चढ़ सकते हैं ।

12)बारहवां दिन बारहवां घंटा-अपने मोबाइल की songs की playlist को Change करें-

self esteem improvement

शांति से बैठें। और इतने दिनों में कुछ ऐसे songs नए release हुए होंगे जो आपको पसंद आये होंगे। कुछ ऐसे songs आपकी playlist में होंगे जो आप अब सुनते भी नहीं होंगे। तो उनको उनमे से हटाएं।  नए पसंद के गानों  को उस लिस्ट में जगह दें। जब भी आप उन्हें सुनेगे आपको लगेगा कि आपने टाइम निकाल कर आज अपने लिए कुछ बेहतरीन किया। 

13) तेरहवां दिन तेरहवां घंटा-किसी का भी कोई motivational speech सुनें-

आप अपने पसंद के topic पर अपने किसी भी अच्छे speaker का मोटिवेशनल स्पीच सुनें। मोटिवेश्नल स्पीच आपके self improvement मे सबसे ज्यादा मददगार साबित

केवल तब तक सुनें जब तक आपका उसमे मन लगे क्योकि जब आपका मन लगना बंद हो जायेगा आपको समझ आना भी बंद हो जायेगा। उसके बाद फिर वो सुनना मतलब आपका समय बर्बाद करना होगा। 

14)चौदहवां दिन चौदहवां घंटा-किसी भी पसंद की बुक का एक पेज पढ़ें-

book reading for self improvement

अपने किसी भी पसंद के लेखक की कोई बुक लेके आएं।  बुक लाएं ऑनलाइन डाउनलोड न करें। उसको बैठ कर या लेट कर जैसे भी आपको आसान हो पढ़ें।  उसका एक पेज पढ़ें बस। समझें की वो क्या समझाना चाह रहे। उसका सार  समझें।Book reading self improvement का key factor है ।

15)पन्द्रहवां दिन पन्द्रहवां घंटा-अपने किसी करीबी से फ़ोन पर बात करें-   

अपने किसी भी ऐसे रिश्तेदार या दोस्त जिन्हे आप भी उतना ही पसंद करते हैं जितना की वो उसने फ़ोन पर उनका हाल चाल  लें।अपने किसी एक दिन का एक घंटा इस काम के लिए निकालें , क्योकि वो आपको और आप उनको पसंद करते हैं तो बात में मजा भी आएगा और आपका मन भी बहल जायेगा।  साथ ही साथ बात करते रहने से आस पास क्या चल रहा इसकी भी जानकारी मिलती रहती है और आपके रिश्ते भी मधुर बने रहते हैं।

16)सोलहवां दिन सोलहवां घंटा-कुछ ऐसा करें जो आपको हमेशा से Nervous करता आया हो – 

कभी कभी हम किसी से नाराज़ होते हैं तो उनसे बात करना बंद कर देते हैं। उनमे से भी कुछ लोग ऐसे होते हैं जो खुद भी बात नहीं करते फिर।  पर कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो हमें मनाने की कोशिश करते हैं पर हम गुस्से के कारण  नहीं मानते।  पर बाद में हमे लगता है कि शायद हमने गलत किया। पर तब तक हमारे हिसाब से देर हो चुकी होती है। 

दोस्तों रिश्ते सुधारने हों या बनाने हों नए, इनमे कभी कोई देर नहीं होती है। वो कहा जाता है न कि  जब जागो तभी सवेरा।  तो बस अपने किसी दिन का 1  घंटा उन बिखरे रिश्तो को समेटने में लगाइये जो आपको मनाना चाह रहे थे ,उनको नहीं जिन्होंने पलट कर आपको समझने या समझाने की कोशिश नहीं की ।

नर्वस नहीं होना है , सोचना नहीं है कि वो क्या सोचेगा , अरे जो खुद आपको मनाना चाह रहा हो वो खुश ही होगा ना।अगर आपका नर्वस होना कम हो गया तो आप ने अपना self improvement कर लिया ।

17)सत्रहवाँ दिन सत्रहवाँ घंटा-कुछ अपने पसंद का Cook करें-

cook something for self improvement

अपने पसंद का कुछ भी स्वयं से बना कर खाएं।  क्योकि अपने हाथ का बना कुछ भी हो कैसा भी हो स्वादिष्ट लगता है। 

18)अठारहवाँ दिन अठारहवाँ घंटा-एक प्लेट भर कर सलाद खाएं-

self development and communication

फ्रूट्स या सब्ज़ी या दोनों मिला कर एक प्लेट भर के सलाद तैयार करें और हो सकते तो दोपहर के खाने से एक घंटा  पहले आराम से बैठ कर चबा चबा कर खाएं। पेट के हिसाब से तो सलाद खाना अच्छा  होता ही है साथ ही साथ अपने पसंद की चीजें शांति से बैठ कर स्वाद ले ले कर खाना भी आनंद ही देता है। सलाद से आप ज्यादा energetic फील करते हैं ,weight loose करते हैं और बिमारियों से भी अपना बचाव करते हैं। 

19)उन्नीसवां दिन उन्नीसवां घंटा-Fried फ़ूड को skip करें एक दिन के लिए-

avoid fried food for self improvement

महीने के किसी एक दिन तला भुना कुछ भी खाना सुबह से शाम तक Avoid करें। इससे आपके लिवर को भी एक दिन का रेस्ट मिलेगा और आपको अच्छा भी महसूस होगा। 

20)बीसवां दिन बीसवां घंटा-एक दिन के लिए चीनी का use न करें-

चीनी  वैसे भी शहीर के लिए नुकसान से ज्यादा और कुछ नहीं करती पर फिर भी हम उसको avoid नहीं कर सकते क्योंकि ये इतना आसान नहीं है। पर फिर भी अगर हम महीने में सिर्फ एक दिन चीनी छोड़ दें तो भी हमारे लिए काफी अच्छा रहेगा। चीनी की जगह आप स्टेविआ या Coconut Sugar का इस्तेमाल भी कर  सकते हैं। 

21)इक्कीसवाँ दिन इक्कीसवाँ घंटा-1 दिन के लिए smoke या drink न करें-

self growth

वैसे तो smoke और drink पूरी लाइफ न करें तो बेहतर है पर अगर आप करते हैं तो महीने का एक दिन ऐसा चुनें जिस दिन आप ये दोनों ही न करें बिलकुल। इसका असर भी आपको  दिखाई देगा। मैं जानता हूँ ये आसान नहीं है पर मैं आपको एक सिंपल सा तरीका बता सकता हूँ।

आप जिस दिन को चुनते हैं मेरे इस काम के लिए उस दिन का जो भी टाइम अपने चुना है जैसे कि दोपहर का या रात का , आप उस टाइम एक ऐसे restaurant में जाएं जहा smoking and Drinking allowed  ना हो। या जब भी आप घर पे हों तो जिस टाइम आप smoke या drink  करते हैं उस टाइम कुछ और करें जैसे कि अपने dog के साथ walk पर निकल जाएं या एक shower लें। 

22)बाईसवां दिन बाईसवां घंटा-Personal Hygiene पर ध्यान दें- 

महीने का एक दिन का एक घंटा अपने लिए निकलना बेहद जरुरी है। बाकि काम की तरह ही अपनी देखरेख भी बहुत जरुरी होती है। ऐसा एक घंटा निकाल कर अपने बॉडी केयर पर घ्यान दें। 

23)तेइसवां दिन तेइसवां घंटा-रूम में aroma oil का use करें-

जिस रूम में आप रहते हैं वहां अपनी पसंद का परफ्यूम या aroma oil का use करें , freshness का अहसास होगा। 

24)चौबीसवाँ दिन चौबीसवाँ घंटा-अपने डाक्यूमेंट्स को चेक करें-

   ज्यादातर हमने सुना है कि लोग बोलते हैं कि जरुरी कागज़ था कहीं घर में रख के भूल गया। या कभी कभार ये घटना हमारे साथ भी हुयी ही होगी। इसका सिर्फ ये कारण  है कि हमें अपने Documents व्यवस्थित  करने का समय ही नहीं मिल पाता , या समय को हम manage नहीं कर पाते।

इसीलिए एक  महीने में दिन का एक घंटा ऐसा जरूर निकालें जिसमे आप अपनी फाइल्स को खोल के देखें कि क्या उसमे नए व पुराने सभी कागजात रखें हैं। अगर नहीं तो उन्हें तुरंत लाकर उसमे रखें। विश्वास करें ये काम भविष्य में भी आपको बहुत लाभ देगा।

25)पच्चीसवां दिन पच्चीसवां घंटा-अपने पैसो के investments पर नज़र डालें-

ये हमारी लाइफ के सबसे जरुरी कामों में से एक काम है दोस्तों। हम कमा किस लिए रहे हैं ? जीविका चलने के लिए ना ? और उसी के लिए हम पाई पाई जोड़ते हैं। फिर उन्हें हम कहीं लगाते हैं जहाँ से  हमे भविष्य में उचित लाभ के साथ हमारा पैसा वापस मिल जाये। तो दोस्तों , जिस जमापूंजी के लिए हम इतनी मेहनत  कर रहे हैं दिन रात उसको चेक करना उसपे ध्यान रखना तो बनता है।

अगर आप शेयर्स में या mutual Funds में भी invest करते हैं तो टाइम निकाल कर उनका उतार चढ़ाव देखिये। समझिये कि क्या आपका पैसा सही जगह लगा है या कुछ परिवर्तन की जरुरत है। बैंक में पैसा जमा है तो उनके returns पर भी ध्यान रखिये। कौन सी FD पूरी हो रही है कब हो रही है उसपर ध्यान रखिये। क्या बैंक के कहते में रखे पैसे को कुछ समय के लिए ही सही कही invest करके लाभ कमा सकते हैं या नहीं। इन सब बातों पर विचार कीजिये। 

26)छब्बीसवाँ दिन छब्बीसवाँ घंटा-Social Media से दूर रहें-

avoid social media

Social मीडिया पर  आज कल हमारा ज्यादा से ज्यादा समय बीतता है जिसके कारण हम कुछ ऐसी बातों में फंस जाते हैं जो हमारा समय तो बर्बाद करती ही  हैं  साथ ही साथ लोगों के साथ कभी कभी रिश्ते भी बिगाड़ देती हैं जैसे FB पर किसी के लिए कुछ Comments लिख देना।

मैं आपको SOCIAL MEDIA से एकदम दूरी  बनाने को नहीं कह रहा क्योकि  संभव नहीं है।  पर हाँ ये जरूर कह रहा हूँ कि जो भी एक घंटा आप अपने लिए अलग से निकाल रहे हैं उस एक घंटे इससे दूर रहें। जिससे कि आप बाकी चीजों की तरफ भी Focus कर पाएं। 

27)सत्ताईसवाँ दिन सत्ताईसवाँ घंटा-Gardening करें-

do gardening for self improvement

आप जानते हैं कि हम शहरों में रहने वाले लोग जब भी बाहर tour का प्लान करते हैं ज्यादातर कोशिश करते हैं कि पहाड़ों पर जाएं। वह जाकर एक अजीब सा सुकून मिलता है। उसका एक बहुत बड़ा कारण ये भी होता है कि वहां हम  प्रकृति के बेहद नजदीक होते हैं।

चारो तरफ हरियाली और फूल। इसीलिए जिनके पास जगह होती है वो अपने घर के कुछ एरिया में garden बनाते हैं फूल लगाते हैं। अगर आपके पास भी ऐसी जगह है तो वहां फूल वाले पौधे जरूर लगाएं। वो वातावरण को शुद्ध करेंगे ही साथ ही आपके मन को भी प्रसन्न रखेंगे। अगर आपको सब्ज़ियां  उगाने का शौक है तो वो भी आप कर सकते हैं। 

Motivational bedtime story of a stone cutter

28)अट्ठाईसवां दिन अट्ठाईसवां घंटा-यदि घर में कोई album हो तो उसको पलटें-

building self esteem

आज के समय में market में digital चीजें आ जाने से album जैसी चीजें तो घर से ख़तम हो गयी हैं परन्तु फिर भी आज भी कुछ घरो में albums  होते हैं। अगर आपके पास भी एल्बम है तो अपने किसी दिन के एक घंटे में एल्बम लेके बैठें। एक एक फोटो को देख के आपको  कुछ खट्टी मीठी यादें याद आएंगी। जो आपके चेहरे पर अनायास ही मुस्कान दे जाएगी। ये मन को खुश करने का बहुत पुराना पर सटीक तरीका है। 

29)उन्तीसवां दिन उन्तीसवां घंटा-अपने जीवन की किसी भी एक अच्छी घटना को याद  करें–

दोस्तों , कभी कभी हम बैठे बैठे ही कुछ पुराना सोच जाते हैं और चेहरे पे हंसी आ जाती है। लोग पूछते भी हैं कि अरे भाई क्या हुआ अकेले अकेले हंस रहे। कभी आपने अंदाज़ा है कि किसी भी बात को याद करके हमे जो हंसी आ  जाती है वो हमें काम करने की कितनी ऊर्जा दे जाती है।

आप फ्रेश feel करने लगते हैं.बस आपको अपने किसी दिन के एक घंटे यही करना है।  आपको शांत बैठ के या लेट कर आंख बंद करके अपनी किसी भी पुरानी अच्छी यादो को याद  करना है फिर से। और आपको ध्यान रखना है कि वो यादें अच्छी ही होनी चाहिए। क्योकि अगर अपने कुछ नेगेटिव सोचा तो आपका पूरा दिन ख़राब हो जायेगा। फिर वो बात आपको पूरे दिन परेशान करेगी। 

30)तीसवां दिन तीसवां घंटा-अपने पसंद का कुछ खरीद के लाएं-

आप बाहर  जाएं , market घूमें और अपने पसंद का कुछ भी छोटा बड़ा खरीद के लाएं। चाहे वो मैगी का एक पैकेट हो या कॉफ़ी का एक पाउच। ये छोटे से सामान भी आपको ख़ुशी देंगे। याद है बचपन में हम लोग अगर पेंसिल रबर भी खरीद कर लाते थे नया तो कितना खुश रहते थे ? अब छोटी चीजें हमारे लिए छोटी ही रह गयी हैं। अपना बचपन जीने की कोशिश कीजिये आपको हर छोटी ख़ुशी में भी ख़ुशी ही मिलेगी। 

दोस्तों,बहुत मुश्किल है किसी के लिए भी बहुत सारी अच्छी आदतों को अपने जीवन में उतार पाना , पर कितने लोग तो पूरी लाइफ यही नहीं जान पाते हैं कि शुरुवात कहाँ से करनी है।  मैंने इसीलिए आपके लिए ये 30 घंटे आपसे मांगे हैं और आपको बताने की कोशिश की है कि कैसे आप ये छोटे छोटे बदलाव करके अपने जीवन में आसानी से बड़े बदलाव ला सकते हैं।

Missing Ingredient-  

positive thinking for self improvement

You never realize how boring your life is until someone asks what you like to do for fun

दोस्तों , हम लाइफ में कभी समझ नहीं पाते हैं हम क्या miss कर रहे हैं। भागती हुयी लाइफ Complete लगती है हमें। पर जब हम समझ पाते हैं कि हमने क्या miss कर दिया तो हमे दुःख होता है कि हम अपनी लाइफ से और ज्यादा ले सकते थे। पर अब भी कुछ ख़तम नहीं हुआ है ,sorry feel करना बंद कीजिये क्योकि बैठ कर केवल सपने देखने से वो पूरे नहीं होते। हम अपने को या तो Guilty feel करा सकते हैं कि हमारे पास ideas थे पर हमने action नहीं लिया या फिर उठ कर खड़े हो सकते हैं अपने ideas को हकीकत में जीने के लिए , अब ये आपके ऊपर है कि आपको किधर जाना है और समझना है कि what are the tips for self improvement


6 Comments

BE MOTIVATED · April 19, 2020 at 11:15 pm

Great writing..very motivating.

Unknown · April 19, 2020 at 11:30 pm

Very useful post

Unknown · April 19, 2020 at 11:44 pm

Very nice sir

Unknown · April 20, 2020 at 9:58 am

Very good "food for thought". Gains additional significance during period of lockdown. A must read 👍

Neeraj Sharma · April 20, 2020 at 12:46 pm

What a great thing you brought in front of us. Very nice dear. The ideas you given in those thirty points are really great. I will follow all your blogs from now onwards. Keep it up. ��

Unknown · April 21, 2020 at 6:45 pm

Abhi ,
During lock down this is very helpful .I really appreciate you.keep it up.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *