मृत्यु के बाद क्या होता है

दोस्तो अकसर हमें ये जानने की लालसा रहती हैं कि आखिर मृत्यु के बाद होता क्या है ? इंसान कहाँ जाता है , उसके साथ क्या क्या होता है ?

क्या ऊपर भगवान से मिलता है कोई ? क्या भगवान हैं ? क्या स्वर्ग नर्क ऊपर मिलते हैं ? ये सब ऐसे सवाल हैं जो जहां पर भी उठते हैं लालसा बढ़ा देते हैं ।

रेमंड मूडी ने 1975 मे इसी पर एक पुस्तक लिखी थी ” life after life“, जो कि काफी हिट रही ।

उसमे उन्होने ऐसे ही कुछ लोगो का साक्षात्कार किया है जो मृत्यु के बाद वापस लौट आए हैं , और उन्होने अपने साथ हुयी घटनाओ को लोगों से साझा किया है ।

अर्जुन के गाँडीव का रहस्य ….

रेमंड मूरी के अनुसार,बहुत से लोगों का उन्होने interview लिया है जिनसे से ज़्यादातर ने ये कहा कि उन्होने एक light महसूस की, जो की उन्हें लगा कि jesus हैं । उस light को लोगों ने गरम पर प्यार भरी बताया ।

ज़्यादातर लोगो का यही कहना था कि मृत्यु के बाद उनका सीधा सामना एक चमकदार light से हुआ । कुछ लोगो के अनुसार , पहले ये प्रकाश कुछ धीमा सा होता है , परंतु बाद मे ऐसा लगता है जैसे हम धीरे धीरे इसके पास होते जा रहे हैं और प्रकाश तेज़ और चमकीला होता जाता है।

पर लगभग सभी लोगों का ये कहना होता है कि ये प्रकाश उन्हे किसी भी प्रकार से hurt नही करता है और न ही दूसरी आस पास कि चीजों को देखने से रोकता है । वो उस तेज़ चमकीले प्रकाश मे भी आराम से आस पास होने वाली सभी घटनाओं को देख सकते थे ।

आइये मैं आपको 3 कहानियाँ बताता हूँ जो डॉक्टर मूरी ने अपनी किताब मे लिखी हैं –

Story 1) –

एक pure white चमकीला प्रकाश है , जो की काफी सुंदर है और आँखों को hurt भी नही कर रहा है । मैंने धरती पर कभी ऐसी कोई light नही देखी है । पर ये केवल प्रकाश है , तेज़ प्रकाश और इसमे कोई अंदर नही दिख रहा है ।

पर ऐसा लग रहा है जैसे ये प्रकाश मुझे समझ रहा है देख रहा है और वो भी बहुत प्यार से । वो प्रकाश मुझसे कहता है कि- “अगर तुम मुझे प्यार करते हो तो वापस जाओ और जो तुमने शुरू किया है उसको खतम करो ” ।

Story 2)

मैं सुन रहा हूँ कि doctors कह रहे हैं कि मैं मर चुका हु । मेरी सासें नही चल रही हैं । तभी अचानक मैं देखता हु कि चारों तरफ अंधेरा हो गया है और मैं इस अंधेरे में तैरने लगा हु । मैं इस कालेपन से बाहर निकल रहा हु ।

तभी मैंने एक चोटी सी पर बेहद चमकदार सफ़ेद प्रकाश देखा । ये अभी तो बहुत छोटा है । पर ये मेरे पास आता जा रहा है । ये बड़ा होता जा रहा है । ये मुझे अपने अंदर खीचे ले जा रहा है ।

Story 3)

मैं जानता था कि मैं मर रहा हु पर मैं कुछ नही कर पा रहा था क्यूकी मुझे कोई सुन नही सकता था । तभी एक झटके से मैं अपने ही शरीर से बाहर आ गया था , क्यूकी मैंने देखा कि मेरा ही शरीर ऑपरेशन टेबल पर पड़ा है । मुझे ये देख कर बहुत बुरा लग रहा था ।

तभी मैंने देखा कि एक हल्का सा पर चमकीला प्रकाश आया । वो मुझे कोई नुकसान नही पहुचा रहा था । जैसे जैसे ये मेरे पास आ रहा था इसका आकार बढ़ता जा रहा था । ये मुझे हल्की हल्की गर्मी का एहसास करा रहा था ।

ये इतना तेज़ और चमकीला था कि ऐसा लग रहा था कि सब कुछ इसमे समा जाएगा । मैं उसे describe नही कर सकता । मुझे उस प्रकाश मे से एक आवाज़ आई – क्या तुम मृत्यु के लिए तैयार हो ?

मैं उस आवाज़ मे इतना खो सा गया था कि मैंने कोई जवाब नही दिया । उस प्रकाश मे अपनापन और प्यार था ।

मृत्यु के बाद होने वाली घटनाओं का सार –

  1. लोगों को एक सुरंग मे से या किसी सकरे रास्ते से जाने का एहसास हुआ ।
  2. एक feeling प्यार और शांति की
  3. टेलीपैथी जैसी किसी technology से किसी से बात का एहसास
  4. मरजाने का एहसास या दुनिया से दूर हो जाने का एहसास
  5. एक चमकीली light का एहसास जो उनसे कुछ कहना चाह रही हो
  6. कुछ music सुनने का एहसास
Categories: Uncategorized

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *