Headache से परेशान हैं ?-आज के भागदौड़ वाली जिंदगी मे लगभग सभी कभी न कभी सरदर्द (Headache) से परेशान होते ही हैं । उस समय या तो हम tablet खा के आराम पाते हैं या फिर बालों मे ठंडे तेल का प्रयोग करते हैं ।

headache ayurved remedy

सरदर्द (Headache) का घरेलू उपाय —

आज कल हम बहुत जागरूक हैं और लगातार हमारा प्रयास रहता है कि Allopathic दवाओं का कम से कम इस्तेमाल करें ।क्यूकी हम सभी मानते हैं कि दवाओं का ज्यादा उपयोग शरीर को नुकसान पहुचाता है ।

आज बाज़ार मे कई तरह के ठंडेतेल मौजूद हैं जो सरदर्द ( Headache) मे आराम दिलाने का वादा करते हैं । परंतु प्रयोग की दृष्टि से 2 तेल ज्यादा प्रचलित हैं – नवरत्न तेल और हिमगंगे तेल

आइये अब हम जानने की कोशिश करते हैं कि हमें कौन सा तेल Headache मे उपयोग मे लाना चाहिए ।

नवरत्न तेल Vs हिमगंगे तेल —

नवरत्न तेल–

navratna cool oil

company Profile–

नवरत्न तेल की कंपनी Emami को कौन नही जानता है । ये कंपनी 1974 मे बनी है और इसके 300 से भी ज्यादा प्रोडक्टस बाज़ार मे हैं ।और इनहि मे से एक है सर दर्द (Headache) निवारक तेल ।

हिमगंगे तेल —

himgange tel

Company Profile–

इस company का नाम है – G.K.Burman Herbal (India) private Limited. इसकी स्थापना 1984 मे हुयी थी जो तब से medicare products बनाते हैं ।

Ingredients–

1)cyperus rotundus ( मोथा )–

how to deal with headache

इसको आयुर्वेद मे ” नागरमोथा” के नाम से भी जाना जाता है । emami ने इसे अपने तेल मे सरदर्द (Headache) निवारक के रूप में उपयोग किया है ।इसका काम सूजन मे , दर्द मे आराम दिलाना होता है । इसमे दर्द निवारक गुण पाये जाते हैं । ये आपको नवरत्न तेल की बोतल पर लिखा मिल जाएगा ।

जबकि हिमगंगे तेल की बोतल पर फिलहाल इसका कोई जिक्र नही है ।

2) हिबिस्कस रोज़ा–

आयुर्वेद मे इसको गुड़हल का फूल कहा जाता है । गुड़हल का फूल अनेक आयुर्वेदिक औषधियों मे प्रयोग किया जाता है । इसको बालो मे उपयोग करने से बालों की जड़ें मजबूत होती हैं ।इसे आप नवरत्न तेल की बोतल पर आसानी से लिखा पा सकते हैं ।

जबकि हिमगंगे की बोतल पर ऐसा कुछ भी नही लिखा है ।

3) एक्लिप्टा अल्बा–

इसे आयुर्वेद मे ” भृंगराज” के नाम से जाना जाता है और आम लोग भी इसके नाम और काम से भली भांति परिचित हैं ।बालों के लिए ये औषधि अमृत समान है । ये बालो का झड़ना रोकती है साथ ही साथ बालों को घना और काला भी बनाती है ।इसे भी सरदर्द (Headache) की औषधि के रूप मे प्रयोग किया जाता है ।

नवरत्न तेल और हिमगंगे दोनों मे ही आपको ये घटक मिल जाएगा ।

4) पारमेलिया परलेटा —

medicare headache

इसको आयुर्वेद मे Stone Flower के नाम से जाना जाता है। इसका मुख्य काम किसी भी तरह के infection को रोकना और उससे आराम दिलाना होता है ।

नवरत्न तेल मे आपको ये तत्व मिल जाता है जबकि हिमगंगे मे इसका उपयोग नही हुआ है ।

5) लिलियम पोलीफ़ाइलम–

ये सफ़ेद लिली का फूल होता है । आयुर्वेद मे इसका उपयोग चक्कर आना और अनिद्रा जैसे रोगो मे किया जाता रहा है ।

नवरत्न तेल मे ये आपको मिल जाता है जबकि हिमगंगे मे ये उपयोग नही होता है ।

white lily for headache medicine

6) मेन्था–

menthol use for headache relief

इसे आम भाषा मे ” पुदीना ” कहा जाता है । इसका मुख्य काम ठंडक पहुचाना होता है ।बालों मे उपयोग करने पर यह सर मे अंदर तक ठंडक पहुचाता है ।

इसे नवरत्न तेल और हिमगंगे दोनों मे ही उपयोग किया गया है ।

7) एम्बलिका ओफिसिनेलिस–

इसे आम भाषा मे हम ” आंवले” के नाम से जानते हैं । आंवले के उपयोग से बालों का झड़ना कम होता है । इसके उपयोग से बालों को काला रखने मे भी सफलता मिलती है ।

नवरत्न तेल और हिमगंगे दोनों ही प्रकार के ठंडे तेलों मे इसका उचित उपयोग किया गया है ।

8) हिबिस्कस एबाल्मोस्कस–

इसको आयुर्वेद मे मुश्क दाना के नाम से जानते हैं । इसका उपयोग प्रोटीन के होने वाले क्षरण ( हानि) को रोकने के लिए करते हैं । और ये तनाव को भी कम करता है ।और सरदर्द (Headache) मे भी आराम देता है ।

इसका प्रयोग नवरत्न तेल मे तो दिखता है परंतु हिमगंगे मे नही ।

9) बकोपा मुन्निएरी–

bramhi use for medication

इसका आम भाषा मे नाम ” ब्राम्ही” होता है । ये भी बहुत प्रसिद्ध नाम है । अधिकतर सभी लोग इसका उपयोग जानते ही हैं ।इसके उपयोग से बालों की जड़ें मजबूत होती हैं । साथ ही साथ ये बालों मे कभी रूसी भी नही होने देती है ।

इसका प्रयोग हिमगंगे और नवरत्न दोनों ही तेलों मे किया गया है ।

10) अकसिया कोन्सिना–

shikakai for hair loss

इसे आम भाषा मे ” शिकाकाई ” कहा जाता है जिसका नाम हम सब अपने बचपन से सुनते आ रहे हैं ।ये एक एशियाई मूल का झाड़ीदार पेड़ होता है । इसके फल मे भरपूर मात्र मे अलकेलोयड्स पाये जाते हैं जिसके कारण इसका उपयोग हजारों सालों से बाल धोने मे किया जाता रहा है । ये बालों को मुलायम कर देता है ।ये antioxident होता है और इसमें विटामिन A,C,K और D भरपूर मात्र मे होते हैं ।और ये सारे विटामिन मिलकर बालों को पोषण देते हैं ।

इसका प्रयोग दोनों ही तेलों मे उचित रूप से किया गया है ।

11) पावोनिया ओडोरेटा–

medications for headache

इसे आयुर्वेद मे ” नेत्रबाला ” पुष्प कहा जाता है । इसका उपयोग बल उगाने मे भी किया जाता है ।

नवरत्न तेल मे इसके उपयोग का जिक्र तो मिलता है पर हिमगंगे मे नही ।

12) सेंटेला एशियाटिका–

इसे आयुर्वेद मे ” गोटू कोला ” के नाम से जाना जाता है ।हम कभी कभी जब बहुत मानसिक थकान महसूस करते हैं तो इसका मुख्य कारण शरीर मे डोपमाइन हारमोन के स्तर मे कमी होना होता है । गोतु काला का काम इसी हारमोन के उत्पादन को control करना होता है ।

क्या आप depression मे जी रहे हैं ? डिप्रेशन को दूर करने की ट्रिक्स जानें

नवरत्न तेल और हिमगंगे दोनों मे ही इसका प्रयोग किया गया है ।

13) कपूर —

कपूर का उपयोग हजारो सालों से बालों के लिए होता आ रहा है । इसके नियमित उपयोग से बालों मे रूसी की समस्या से छुटकारा मिलता है ।कपूर के उपयोग से बालों मे रक्त प्रवाह बढ़ता है जिससे बालों के उगने मे मदद मिलती है ।इसके साथ ही साथ नींद ना आने के समस्या मे भी कपूर दिमाग को शांत रख कर मदद करता है ।साथ ही साथ तेज़ सर दर्द (Headache) मे आराम के लिए भी ये मददगार होता है ।

नवरत्न तेल और हिमगंगे दोनों मे ही इसका उपयोग किया गया है ।

14) मंजिष्ठा–

मंजिष्ठा का उपयोग बालो के गंजे पैन को दूर करने के लिए सालों से आयुर्वेद मे होता आ रहा है। इससे बालों का झड़ना भी कम हो जाता है ।

हिमगंगे तेल मे इसका उपयोग किया गया है जबकि नवरत्न मे इसका प्रयोग नही मिलता ।

15) शतावरी —

shatavari use in medical

आयुर्वेद मे शतावरी को बहुत ज्यादा फायदेमंद जड़ी बूटी बताया गया है ।ये बेल या झाड के रूप मे होती है ।आज कल अनिद्रा रोग से बहुत से लोग पीड़ित हैं । शतावरी का प्रयोग अनिद्रा को दूर करने के लिए ही किया जाता है ।

क्या आप जानते हो आप कौन हो ? खुद को समझिए

नवरत्न तेल मे इसका उपयोग नही दिखाई देता है , जबकि हिमगंगे मे इसका प्रयोग किया गया है।

16) धनिया —

dhaniya ke fayde

अगर आपके बाल झड़ते हैं तो धनिया का प्रयोग बालों को मजबूत करता है । इसके साथ ही यार बालों को naturally straight करने मे भी मदद करता है ।धनिया के रस मे कई ऐसे प्रोटीन और विटामिन होते हैं जो बालो की growth बढ़ाने मे मदद करते हैं ।

नवरत्न तेल मे इसका उपयोग नही लिखा गया है , जबकि हिमगंगे तेल मे इसका उपयोग किया गया है ।

17) गोखरू–

गोखरू एक बहुत ही फायदेमंद औषधि है । ये वर्षा मे अधिक फैलते हैं । इनके पौधे जमीन पर छत्ते जैसे फैले होते हैं ।इसका बीज की तासीर ठंडी होती है जो सरदर्द (headache) को कम करने मे सहायक होती है ।

नवरत्न तेल मे इसका प्रयोग नही लिखा गया है , जबकि हिमगंगे मे इसका उपयोग हुआ है ।

gokharu use for headache

18) तुलसी —

tulsi use in medical

बालों को झड़ने से बचाने के लिए तुलसी का उपयोग किया जाता है। साथ ही साथ ये किसी bacterial infection से भी बचाती है।

हिमगंगे मे इसके उपयोग का वर्णन है पर नवरत्न तेल मे इसका उपयोग नही लिखा गया है ।

आइये अब इसे एक table से समझते हैं –

औषधि नवरत्न तेल हिमगंगे ठंडा तेल
मोथाहै नही है
गुड हलहै नही है
भृंगराजहै है
स्टोन फ्लावरहै नही है
सफ़ेद लिलीहै नही है
पुदीनाहै है
आंवलाहै है
मुश्क दाना है नही है
ब्राम्हीहै है
शिकाकाईहै है
नेत्र बाला है नही है
गोटू कोला है है
कपूर है है
मंजिष्ठानही है है
शतावरी नही है है
धनिया नही है है
गोखरूनही हैहै
तुलसीनही है है

अगर अब हम इन सारे contents पर नजर डालें, तो हम पाते हैं कि नवरत्न तेल मे 13 आयुर्वेदिक औषधियाँ उपयोग की गयी हैं ।

जबकि हिमगंगे तेल मे केवल 12 औषधियाँ ही प्रयोग हुयी हैं ।

साथ ही साथ अगर हम कंपनी की Brand value और market value को भी ध्यान मे रखें तो जाहिर सी बात है कि Emami निश्चय ही एक बड़ा brand name है और हम इस Brand पर trust करते आए हैं ।

साथ ही साथ Emami के 300 से ज्यादा products मार्केट मे सफलता से बिक रहे हैं , उनमे से कुछ हमारी daily life का भी हिस्सा हैं ।

वही दूसरी ओर G.K. Burman company के न तो इतने सारे products market मे हैं और न ही हमारी life का हिस्सा है ।

एक ओर जहां Emami ब्रांड 1984 मे बना है, वहीं हिमगंगे ब्रांड 1974 मे । मतलब Emami की brand value G.K. Burman brand से 10 साल पुरानी है।

दोस्तों ,हम इन सभी पहलुओं पर ध्यान दें और सरदर्द ( Headache) के लिए और अपने लिए बेहतर चुनें ।

धन्यवाद


1 Comment

Be motivated · July 2, 2020 at 10:06 pm

Nice..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *